योगी सरकार 11 जुलाई को पेश करेगी पहला बजट, जानिए बजट में क्या होगा खास..

डीएन संवाददाता

सूबे की सरकार 11 जुलाई को अपना पहला बजट पेश करेगी। सीएम योगी के इस बजट में कई योजनाओं को मंजूरी मिल सकती हैं। बजट में क्या होगा खास, जानने के लिए पढ़िए ये रिपोर्ट..

योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री, यूपी
योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री, यूपी

लखनऊ: योगी सरकार 11 जुलाई को विधानसभा में अपना पहला बजट पेश करेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस बजट में कई अहम मुद्दे हैं जिन्हें विधानमंडल के इस बजट सत्र में मंजूरी मिल सकती है। विधानमंडल का बजट सत्र 11 जुलाई से शुरू होकर 28 जुलाई तक चलेगा। योगी सरकार सत्र के पहले ही दिन 11 जुलाई को अपना पहला बजट प्रस्तुत करेगी। कयास लगाए जा रहे हैं कि योगी सरकार का बजट 3.6 लाख करोड़ रुपये का होगा। बजट में लघु व सीमांत किसानों के ऋण माफ करने के लिए राशि भी शामिल होगी। साथ ही सीएम योगी के इस बजट में कई सारे मुद्दे और योजनाएं की मंजूरी के लिए सिफारिशें शामिल हो सकती हैं।

यह भी पढ़ें: .. तो अब अंधेरे में नहीं रहेंगे कोई घर

बजट में शामिल हो सकते हैं ये मुद्दे

1. 2017-18 के बजट में भाजपा के विचार पुरुष पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर कई नई योजनाओं व कार्यक्रमों के ऐलान की तैयारी है। उपाध्याय के नाम पर विभिन्न विभागों की कई महत्वपूर्ण योजनाओं का ऐलान हो सकता है।

2. मथुरा में स्थित पं. दीनदयाल उपाध्याय की जन्मस्थली नंगला चंद्रभान के पर्यटन विकास के ऐलान के बाद उपाध्याय के नाम से सभी विश्वविद्यालयों में शोधपीठ की स्थापना का प्रस्ताव है।

3. बजट में समाजवादी नाम से संचालित कई योजनाओं के नाम बदलकर मुख्यमंत्री करने का प्रस्ताव भी रखा जा सकता है। साथ ही भाजपा के संस्थापकों में श्यामा प्रसाद मुखर्जी के नाम को श्यामा प्रसाद अर्बन मिशन करने का भी प्रस्ताव शामिल हो सकता है।

4. बजट में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम से चल रही केंद्र की अटल पेंशन योजना को प्रदेश में बड़े पैमाने पर लागू करने का ऐलान हो सकता है।

यह भी पढ़ें: कांवड़ यात्रा में फिल्मी गाना बजाने वालों की खैर नहीं..

5. किसानों की कर्जमाफी से संबंधित 36 हजार करोड़ रुपये बजट के बंदोबस्त का ऐलान भी हो सकता है।

6. बजट में गरीब परिवार में जन्म लेने वाली बालिकाओं के लिए भाग्य लक्ष्मी योजना भी शामिल है।

7. गोरखपुर में रामगढ़ तल के विकास व अत्याधुनिक प्रेक्षागृह की बहुत पुरानी मांग को भी योगी सरकार के पहले बजट में मंजूरी मिल सकती है।

8. बजट में रामगढ़ ताल में वाटर स्पोर्ट्स के विकास और आधुनिक प्रेक्षागृह के लिए बजट आवंटन का मुद्दा भी शामिल है। साथ ही गोरखपुर में चिड़ियाघर की स्थापना के काम को भी मंजूरी मिल सकती है।

9. योगी सरकार के पहले बजट में धार्मिक दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थलों के विकास का मुद्दा नजर आ सकता है। इसके तहत अयोध्या, मथुरा, वाराणसी व मिर्जापुर-विंध्याचलधाम के पर्यटन विकास के लिए योजनाओं और मथुरा में गीता शोध संस्थान की स्थापना के लिए मंजूरी मिल सकती है।

10. केंद्र सरकार की ‘स्वदेश दर्शन’ योजना के तहत अयोध्या, मथुरा व वाराणसी तथा ‘प्रासाद’ योजना से अयोध्या, मथुरा व वाराणसी को जोड़कर कई नए कार्य कराने का ऐलान हो सकता है। साथ ही वाराणसी में सांस्कृतिक केंद्र की स्थापना की घोषणा का भी हो सकता है।

यह भी पढ़ें: केशव मौर्य: विधायक और सहमंत्री लेंगे स्कूल का जिम्मा, शिक्षा व्यवस्था होगी दुरुस्त

पं. दीनदयाल उपाध्याय से संबंधित योजनाएं

1. पंडित दीनदयाल उपाध्याय कृषि समृद्धि योजना

2. दीनदयाल उपाध्याय सोलर स्ट्रीट लाइट योजना

3. दीनदयाल उपाध्याय शहरी आजीविका मिशन

4. दीनदयाल उपाध्याय नगर विकास योजना

5. दीनदयाल उपाध्याय हथकरघा प्रोत्साहन योजना

6. सभी राज्य विश्वविद्यालयों में दीनदयाल उपाध्याय शोध केंद्र

7. पंडित दीनदयाल उपाध्याय आदर्श नगर पंचायत योजना

8. नगर निकायों के दक्ष व्यक्तियों के लिए पं. दीनदयाल उपाध्याय पुरस्कार

9. रोडवेज के उत्कृष्ट ड्राइवरों के लिए एक लाख रुपये की पंडित दीनदयाल उपाध्याय पुरस्कार योजना

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …