कानपुर: सिंघाड़ा व्यापारियों ने निकाली जीएसटी की अर्थी, सरकार की नीतियों पर उठाए सवाल

डीएन संवाददाता

यूपी के कानपुर में सिंघाड़ा व्यापारियों ने जीएसटी की अर्थी निकाल कर प्रदर्शन किया। इसके साथ ही सरकार की नीतियों पर कई सवाल भी उठाये।

जीएसटी की अर्थी निकालते व्यापारी
जीएसटी की अर्थी निकालते व्यापारी

कानपुर: यूपी के कानपुर में शनिवार को महानगर उद्योग व्यापार मण्डल के सिंघाड़ा व्यापारियों ने जीएसटी की अर्थी निकाल कर प्रदर्शन किया। इस दौरान शव यात्रा को पूरे बाजार में घुमाया गया। वही व्यापरियों ने जीएसटी हटाए जाने को लेकर जमकर नारेबाज़ी की। जीएसटी हटाओ देश बचाओ और हिन्दुओ को मत जगाओ जैसे नारे लगाए।

अनिश्चित कालीन बंदी के लिए मजबूर होंगे व्यापारी

इस दौरान व्पायारी नेता पवन गुप्ता ने बताया की सिंघाड़ा फल हिंदुओं के व्रत में भी काम आता है और इस पर टैक्स लगाया गया हम सभी इसका पुरजोर विरोध करते है। सिंघाड़ा फल पर आजादी के बाद से टैक्स नहीं लगाया गया है तो अब क्यों लगाया जा रहा है। यदि इस पर जीएसटी और सेंस नहीं हटाया गया तो देश भर के सभी सिंघाड़ा व्यापारी अनिश्चित कालीन बंदी के लिए मजबूर होंगे। और पुरे देश के सिंघाड़ा व्यपारी उग्र आंदोलन करेंगे। ऐसे ही चलता रहा तो अगर सरकार की गलत नीतियों के लिए जैसे आज किसान मजबूर हो रहा है आत्महत्या करने को वैसे अब व्यापारी भी आत्म हत्या करने को मजबूर हो जाएंगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार