डिप्टी सीएम केशव मौर्या ने राजकीय निर्माण निगम के अधूरे कामों को लेकर अधिकारियों को लगाई फटकार

डीएन संवाददाता

डिप्टी सीएम केशव मौर्या ने बुधवार को राजकीय निर्माण निगम के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और निगम के आधे-अधूरे पड़े प्रोजेक्ट को लेकर अधिकारियों को फटकार लगाई।

समीक्षा बैठक करते डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या

लखनऊ: यूपी के डिप्टी सीएम केशव मौर्या ने बुधवार को राजकीय निर्माण निगम के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। समीक्षा बैठक के दौरान डिप्टी सीएम ने निगम के लम्बित कार्यों को लेकर अपनी गहरी नाराजगी जताई। बता दें कि 20 जून को पीएम नरेंद्र मोदी लखनऊ आ रहे हैं। इस मौके पर वे अब्दुल कलाम टेक्निकल विश्वविद्यालय के नये परिसर का उद्घाटन करेगें और इस परिसर का काम अभी अधूरा पड़ा है।

निगम के कई प्रोजेक्ट्स हैं अधूरे

यूपी राजकीय निर्माण निगम राज्य के कई विभागों की इमारतें बनाने का काम करता है। जिसमे शिक्षा, स्वास्थ्य, कारागार और न्याय जैसे विभाग आते हैं। राजकीय निर्माण निगम के अधिकारियों ने बताया की अक्सर समय से धन न मिल पाने के कारण परियोजनाओं मे देरी हो जाती है। धनाभाव के कारण ही चित्रकूट जिला कारागार, मेडिकल कालेज जैसी योजनाओं में देर हो रही है।

परियोजनाओं मे देरी से सरकार का नुकसान

डिप्टी सीएम केशव मौर्या ने कहा की सभी कार्यों के लिये जल्द धन का आवंटन किया जायेगा ताकि परियोजनाओं मे बेवजह देरी न हो। उन्होनें कहा की परियोजनाओं मे देरी से नुकसान सरकार का ही होता है क्योंकि परियोजना की लागत बढ़ जाती है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार