195 किमी/घंटा की रफ्तार से चलने वाली हवाओं से जूझेंगे ये तीन राज्‍य, हाई अलर्ट पर एनडीआरएफ और तटरक्षक बल

डीएन ब्यूरो

दक्षिण भारत के कई राज्यों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। आने वाले गुरुवार तक इस चक्रवाती तूफान के बेहद गंभीर होने की आशंका जताई गई है। 'फनी' की वजह से केरल और उड़ीसा में भारी बारिश और आंधी की आशंका है। साथ ही आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल में भी बारिश और आंधी तूफान की आशंका जताई गई है।

'फनी' चक्रवाती तूफान
'फनी' चक्रवाती तूफान

नई दिल्‍ली: गृह मंत्रालय ने चक्रवात तूफान 'फनी' की भयावहता का अंदाजा लगाते हुए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और भारतीय तटरक्षक बल को हाई अलर्ट पर रखा है। साथ ही मछुआरों को समुद्र में न जाने की सूचना भी जारी की गई है।

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के चक्रवात चेतावनी प्रभाग द्वारा जारी की गई फोटो

आंधी-बारिश और बिजली गिरने से 35 की मौत, 40 से अधिक जख्‍मी, आज भी आंधी-तूफान का अलर्ट जारी

इस तूफानी चक्रवात के गुरुवार 'बेहद खतरनाक चक्रवात' बन जाने की आशंका जताई जा गई है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के चक्रवात चेतावनी प्रभाग ने कल बताया था कि त्रिंकोमाली (श्रीलंका) से 620 किलोमीटर पूर्व, चेन्नई (तमिलनाडु) से 880 किमी दक्षिण-पूर्व में और मछलीपट्टनम (आंध्र प्रदेश) से 1050 किमी दक्षिण-दक्षिणपूर्व में 'फनी' है।

195 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक जाएंगे हवा के झोंके

हवाओं की रफ्तार 160 किलोमीटर प्रति घंटे से लेकर 170 किलोमीटर प्रति घंटे की होगी, जिसमें हवा के झोंके 195 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक जा सकते हैं। इस भयावहता को देखते हुए माना जा रहा है कि गोपालपुर से लेकर पुरी, कोणार्क और बालासोर तक समंदर के किनारे मौजूद उड़ीसा के बड़े हिस्‍से पर तबाही मचा सकता है।

सोनभद्र: आंधी-तूफान ने बरपाया कहर, गिरे कई पेड़ और विद्युत पोल, एक की मौत

पश्चिम बंगाल में भी दिखेगा असर

जिसके बाद यह चक्रवाती तूफान पश्चिम बंगाल के सुंदरबन क्षेत्र की ओर रुख करेगा। 4 और 5 मई को पश्चिम बंगाल के तमाम तटीय क्षेत्रो में इसका कहर दिखने की संभावना है।

आपात स्‍थिति से निपटने को राहत टीमें तैयार

वहीं लगातार बढ़ रही इस चक्रवाती तूफान की रफ्तार को देखते हुए भारतीय सेना और नौसेना को इससे निपटने के लिए चेतावनी स्‍तपर पर तैयार रखा गया है। तीनों ही सेनाओं की राहत टीमें बनाई गई हैं जो किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए किसी भी क्षण काम पर जुट जाने को तैयार खड़ी हैं।

आंधी तूफान के कारण उत्तर प्रदेश में 10 लोगों की मौत, 28 घायल

चक्रवाती तूफान के कहर की आशंका के चलते विशाखापट्नम और चेन्‍नई में काम करने के लिए पहले से ही नेवी ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। नेवी के जहाजों पर पहले से खाने, दवाइयां, कंबल, रबर बोट्स और डॉक्टरों की समुचित व्यवस्था का इंतजाम कर लिया गया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार