सीएम योगी आदित्यनाथ: नमाज और सूर्य नमस्कार एक समान

डीएन ब्यूरो

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को योग महोत्सव में कहा कि नमाज और सूर्य नमस्कार समान हैं, दोनों की मुद्राएं एक जैसी हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि योग किसी जाति, धर्म, उम्र और लिंग का मोहताज नहीं है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ में आयोजित योग महोत्सव को संबोधित किया। इस दौरान सीएम योगी ने कहा 2014 के पहले योग की बात करने वाले को सांप्रदायिक कहा जाता था, लेकिन पीएम मोदी और बाबा रामदेव की अगुवाई में योग आज विश्व के 192 देशों में मनाया जाता है। योग पर चर्चा करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अब योग का लोहा पूरा विश्व मान चुकी है। 

उन्होंने कहा कि सूर्य नमस्कार भी कुछ हद तक नमाज से मिलता जुलता है। इसे सांप्रदायिक नजरिए से नहीं देखना चाहिए। उन्होंने कहा कि योग की कई ऐसी क्रियाएं हैं, जिन्हें व्यक्ति बैठे-बैठे ही कर सकता है। हर जाति व धर्म का व्यक्ति योग का लाभ उठा सकता है।

इस दौरान सीएम योगी ने कहा लोग साधु को भीख तक नहीं देते हैं, लेकिन पीएम मोदी ने मुझे राज्य सौंप दिया। सीएम योगी ने लोगों को भरोसा दिया कि प्रदेश के भले के लिए बड़े निर्णय लेने से नहीं हिचकेंगे।

योगी ने कहा कि अमित शाह ने उन्हें अचानक मुख्यमंत्री बनने को कहा था।तो उनके पास सिर्फ एक जोड़ी कपड़े थे। साथ ही योगी ने बताया कि मैं उप्र के कई इलाकों में पैदल घूमा हूं प्रदेश की सारी बीमारियों का पता है। योगी ने कहा कि उन्होंने पीएम मोदी से सकारात्मक सोच रखना सीखा है। जननी और जन्मभूमि स्वर्ग से बढ़कर होती है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार