निरीक्षण के दौरान अस्पताल में मिली कई खामियां

डीएन संवाददाता

फतेहपुर में मुख्य विकास अधिकारी ने हुसैनगंज के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान मिली कमियों को लेकर उचित निर्देश दिए।

अस्पताल का निरीक्षण करती सीडीओ
अस्पताल का निरीक्षण करती सीडीओ

फतेहपुर: सरकार अस्पतालों की व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने के लिए नए-नए प्रयास कर रही है। करोड़ों का बजट सिर्फ अस्पतालों के लिए ही खर्च हो रहा है। लेकिन इसके बावजूद अस्पताल की स्थिति कुछ और ही बयान कर रही है। गुरुवार को मुख्य विकास अधिकारी (सीडीओ) सी इंदुमती ने हुसैनगंज के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का औचक निरीक्षण किया।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: एकतरफा प्यार में आशिक का पागलपन, लड़की के ना बोलने पर फेंका तेजाब

जननी सुरक्षा योजना पर स्पस्टीकरण मांगती सीडीओ

सीडीओ ने केंद्र अधीक्षक कक्ष, इमरजेंसी वार्ड, महिला वार्ड, पुरूष वार्ड, दवा वितरण कक्ष सहित अन्य कक्ष का निरीक्षण किया। खामियां मिलने पर अधिकारी इंदुमती ने डाक्टरों से स्पष्टीकरण मांगा और उचित निर्देश भी दिए।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: बारिश की वजह से छात्रावास की गिरी छत

डाक्टर को फटकार लगाती सीडीओ

निरीक्षण में सामने आई ये कमियां

1. ओपीडी रजिस्टर में 19 जून से मरीजों से संबंधित किसी प्रकार की कोई एंट्री नहीं हुई।

2. दवा वितरण कक्ष में गंदगी और दवाओं का रख-रखाव सही ढ़ंग से नहीं है।

3. HIV रजिस्टर में ओवरराइटिंग

4. जननी सुरक्षा योजना एवं जननी शिशु सुरक्षा योजना का सुचारु रूप से संचालन ना होना

5. 108 और 102 एम्बुलेंस का रजिस्टर मेनटेन नहीं, डॉक्टरों से मांगा गया स्पष्टीकरण।

6. वार्डों के शौचालय में गंदगी

पहले भी आ चुकी हैं शिकायतें

अस्पताल से पहले भी अव्यवस्थों की शिकायतें मिल चुकी हैं। सूत्रों के मुताबिक सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का फार्मासिस्ट सुरेंद्र कुमार डॉक्टरों की तरह ही प्रैक्टिस करता है और लोगों को मेडिकल स्टोर की दवाइयां लिखता है। अस्पताल में जांच होने के बावजूद कमीशन के चक्कर में बाहरी जांच भी लिखी जाती है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार