सीएए से भविष्य में हो सकते है नकारात्मक परिणाम: मायावती

डीएन ब्यूरो

बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती ने केन्द्र सरकार से नागरिकता संशोधन कानून को वापस लेने की मांग करते हुये कहा कि इस असंवैधानिक कानून से भविष्य में नकारात्मक परिणाम हो सकते है।

मायावती (फाइल फोटो)
मायावती (फाइल फोटो)

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने केन्द्र सरकार से नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को वापस लेने की मांग करते हुये कहा कि इस असंवैधानिक कानून से भविष्य में नकारात्मक परिणाम हो सकते है।

यह भी पढ़ें: अरूणाचल में नहीं लागू हो पाएगा सीएए: पेमा खांडू

मायावती ने जारी बयान में कहा '‘मैं केंद्र सरकार से इस असंवैधानिक कानून को वापस लेने की मांग करती हूं, अन्यथा भविष्य में इसके नकारात्मक परिणाम हो सकते हैं। केंद्र सरकार को आपातकाल जैसे हालात पैदा नहीं करने चाहिए, जैसे कांग्रेस ने पहले किए थे।”

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की केंद्र सरकार के इस असंवैधानिक कानून से भविष्य में नकारात्मक परिणाम हो सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः जामिया के समर्थन में AMU के छात्रों का विरोध प्रदर्शन, यूनिवर्सिटी 5 जनवरी तक बंद, इंटरनेट पर लगाई गई रोक

मायावती ने कहा कि बसपा के संसदीय दल ने राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगा है। उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश विधानसभा में भी नागरिकता संशोधन कानून और महिलाओं के खिलाफ अपराधों के खिलाफ आवाज उठाएगी। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार