लखनऊ में वक़ील शिशिर त्रिपाठी की हत्या से मची सनसनी, अधिवक्ताओं ने किया प्रदर्शन

डीएन ब्यूरो

कल रात 11 बजे के करीब लखनऊ के कृष्णानगर इलाकें के दामोदर नगर में रहने वाले अधिवक्ता शिशिर त्रिपाठी की ईटों से कूचकर हत्या कर दी गई।मामलें मे पुलिस ने घटना का कारण निजी रंजिश बताया है।


लखनऊ:  राजधानी लखनऊ में हाईकोर्ट के अधिवक्ता शिशिर त्रिपाठी की हत्या से अधिवक्ताओं में जबरदस्त गुस्सा है।मामलें मे सेन्ट्रल बार एसोसिएशन ने डीएम के माध्यम से सीएम योगी को ज्ञापन भेजा है।जिसमे पीड़ित परिवार को 1 करोड़ रुपए की आर्थिक मदद और एक सदस्य को सरकारी नौकरी की मांग उठाई है।

इस घटना के बाद इंस्पेक्टर कृष्णनगर प्रदीप कुमार सिंह को संस्पेड कर दिया गया है।वंही मामलें में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया। जबकि बाकियों की धङपकङ जारी है।

वंही मृतक अधिवक्ता के शव के पोस्टमार्टम के बाद शव लेकर वकील कोर्ट रूम पंहुचे।जंहा उन्होने आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग उठाई और यूपी की कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाए। जबकि अधिवक्ता के पिता ने गांजा तस्करी का विरोध करने पर बेटे की हत्या किये जाने की बात कही है।जिससे पुलिस द्वारा निजी रंजिश की बात की हवा निकल गई है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार