जाट आंदोलन का असर, NCR में मेट्रो पर रोक

डीएन ब्यूरो

जाट आरक्षण की आग अब हरियाणा से राजधानी दिल्ली पहुंच गई है। 20 मार्च को जाट आरक्षण आंदोलन को को लेकर दिल्ली में धारा 144 लागू कर दी गई है। जिसके बाद दिल्ली में बाहर से आने वाले लोगों को आई-कार्ड दिखाना होगा। इतना ही नहीं रविवार रात 8 बजे के बाद कई मेट्रो स्टेशन बंद भी कर दिए जाएंगे।

जाट आरक्षण
जाट आरक्षण

दिल्ली: एनसीआर में मेट्रो की शुरुआत के बाद ऐसा पहली बार हुआ होगा जब दिल्ली शहर से बाहर के सभी मेट्रो स्टेशनों पर मेट्रो सेवा बंद की जाएगी। जाट आंदोलनकारियों के दिल्ली कूच के आह्वान को देखते हुए पुलिस ने मेट्रो के दिल्ली बार्डर के भीतर आने और जाने पर रोक लगा दी है। 19 मार्च की रात 11.30 बजे के बाद से ही दिल्ली के बाहर मेट्रो सेवाएं बंद कर दी जाएंगी। 20 मार्च को भी मेट्रो सिर्फ दिल्ली में ही दौड़ेगी।

इस बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री ने जाट प्रदर्शनकारियों को सरकार के साथ वार्ता के लिए हरियाणा भवन बुलाया है। उन्होंने कहा कि इस दौरान कानून मंत्री पीपी चौधरी भी मौजूद रहेंगे। वहीं जाट नेता यशपाल मलिक ने भी पुष्टि की है कि वे मुख्यमंत्री से मिलने हरियाणा भवन जा रहे हैं।

दिल्ली मेट्रो

वहीं इससे पहले दिल्ली मेट्रो की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि दिल्ली पुलिस से मिले निर्देशों के मुताबिक मेट्रो की सेवाएं बंद करने का फैसला लिया गया है। मेट्रो प्रशासन ने सूचित किया है कि 19 मार्च की रात से अगले निर्देश तक गुडगांव, फरीदाबाद, नोएडा और गाजियाबाद में मेट्रो सेवाओं को पूरी तरह से बंद रखा जाएगा। इसी तरह दिल्ली में भी राजीव चौक, पटेल चौक, केंद्रीय सचिवालय, उद्योग भवन, लोक कल्याण मार्ग, जनपथ, मंडी हाउस, बाराखंबा रोड, आर के आश्रम, प्रगति मैदान, खान मार्केट मेट्रो स्टेशनों को भी बंद रखा जाएगा। हालांकि इन सभी मेट्रो स्टेशनों पर अंदर ही अंदर ट्रेन चलती रहेंगी और लोग एक से दूसरी मेट्रो के बीच इंटरचेंज कर सकेंगे। इन स्टेशनों से एंट्री और एग्जिट नहीं हो पाएगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार