Delhi Lockdown: राजस्थान के कोटा में फंसे छात्रों को निकालने के लिए अरविंद केजरीवाल ने निकाली नयी तरकीब

डीएन ब्यूरो

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि दिल्ली के जो छात्र राजस्थान के कोटा में फंसे हैं वह कल तक राजधानी पहुंच जायेंगे।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

नयी दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा कि दिल्ली के जो छात्र राजस्थान के कोटा में फंसे हैं वह कल तक राजधानी पहुंच जायेंगे।

केजरीवाल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये मीडिया को बतायाकोटा में जो हमारे बच्चें है उनके लगातार फ़ोन आते थे कि हमें यहां से निकालिये। केंद्र सरकार की इजाजत के बाद आज हमनें 40 बसें कोटा भेज दी है और उम्मीद है कल तक वो वापस अपने घर जाएंगे1”

लाॅक डाउन की वजह से दिल्ली में फंसे विभिन्न राज्यों के मजदूरों और अन्य लोगों के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा,“ मेरे पास कई लोगों के फ़ोन आते है कि उत्तर प्रदेश, बिहार के जो लोग घर जाना चाहते है उनके लिये क्या व्यवस्था है? मैं सभी को आश्वस्त करना चाहता हूँ, मेरी सभी राज्य सरकारों से बात चल रही है, जो भी फैसला होगा आप सब को बताया जाएगा। लेकिन इस समय कोई जल्दबाजी करे।

उन्होंने कहा कि कोरोना संकट में सबसे ज्यादा मार दिहाड़ी पर काम करने वाले वर्ग पर

पड़ी है। हम उनकी पूरी मदद करने की कोशिश कर रहे है। लोगों को रोजमर्रा जरूरत के सामान की किट के साथ दोगुना राशन दे रहे है। दिल्ली सरकार अब प्रति व्यक्ति 10 किलो राशन देगी।

उन्होंने राजधानी में कोरोना के अधिक मामलों पर कहा कि दिल्ली की प्रति 10 लाख जनता में 2300 लोगों के टेस्ट हो रहे हैं जबकि देश में यह संख्या 500 ही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में कोरोना उपचार में प्लाज्मा का परीक्षण सफल रहा है और राजधानी में अभी तक कोरोना के 3515 मामलों में 1094 लोग ठीक होकर अपने घर चले गए जो प्लाज्मा देने के लिए तैयार हैं। दिल्ली में कोरोना से 59 की मौत हुई है।

केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं से कहा कि सबको निडर होकर जनता की सेवा करनी है, अपने क्षेत्रों में किसी को भूखा नहीं रहने देना है। ये पुण्य का काम है और यही सच्ची देशभक्ति है। दिल्ली में हम इस महीने दोगुना राशन तो दे ही रहे हैं लेकिन उस राशन के साथ रोजमर्रा के जीवन के लिए जरूरी सामान की एक किट भी दे रहे हैं लोगों की कमाई पूरी तरह बंद है तो उनके लिए तेल, नमक, चीनी, मिर्च, नहाने के साबुन भी हम मुफ्त दे रहे हैं।(वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार