Share Market Update: शेयर बाजार में तेजी जारी, जानें कितने पर हुआ बंद

डीएन ब्यूरो

रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा म्यूचुअल फंड के लिए अतिरिक्त तरलता के उपायों से घरेलू शेयर बाजारों में आज लगातार दूसरे दिन मजबूती देखी गयी और बीएसई का सेंसेक्स तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी एक प्रतिशत से अधिक चढ़कर डेढ़ महीने के उच्चतम स्तर पर बंद हुये।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

मुंबई: रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा म्यूचुअल फंड के लिए अतिरिक्त तरलता के उपायों से घरेलू शेयर बाजारों में आज लगातार दूसरे दिन मजबूती देखी गयी और बीएसई का सेंसेक्स तथा नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी एक प्रतिशत से अधिक चढ़कर डेढ़ महीने के उच्चतम स्तर पर बंद हुये।

आरबीआई ने सोमवार को म्यूचुअल फंड के लिए 50 हजार करोड़ रुपये की अतिरिक्त तरलता उपलब्ध कराने के उपायों की घोषणा की थी। इससे शेयर बाजार लगातार दूसरे दिन गुलजार रहा। बैंकिंग एवं वित्तीय कंपनियों के शेयरों में हुई जबरदस्त लिवाली से सेंसेक्स 371.44 अंक यानी 1.17 फीसदी चढ़कर 32,114.52 अंक पर पहुँच गया। निफ्टी भी 98.60 अंक अर्थात् 1.06 फीसदी की बढ़त में 9,380.90 अंक पर बंद हुआ। यह दोनों का 13 मार्च के बाद का उच्चतम बंद स्तर है।

अच्छे तिमाही परिणाम से इंडसइंड बैंक के शेयर सेंसेक्स में सर्वाधिक 15 प्रतिशत चढ़े। सोमवार को जारी परिणाम के अनुसार, 31 मार्च को समाप्त तिमाही में बैंक का मुनाफा जरूर कम हुआ है, लेकिन राजस्व, ब्याज से प्राप्त आय और परिचालन लाभ बढ़ा है। साथ ही गैर-निष्पादित परिसंपत्ति का अनुपात भी कम हुआ है।

बजाज फाइनेंस के शेयर नौ फीसदी, एचडीएफसी के पौने आठ फीसदी, एक्सिस बैंक के साढ़े छह फीसदी और आईसीआईसीआई बैंक के करीब साढ़े तीन फीसदी की बढ़त में बंद हुये। सनफार्मा को सबसे ज्यादा सवा तीन फीसदी का नुकसान हुआ। मझौली और छोटी कंपनियों में भी लिवाली का जोर देखा गया। बीएसई का मिडकैप 0.80 प्रतिशत चढ़कर 11,722.88 अंक पर और स्मॉलकैप 0.77 फीसदी की बढ़त के साथ 10,862.54 अंक पर बंद हुआ। विदेशों में एशियाई बाजारों में मिलाजुला रुख रहा। हैंगकांग का हैंगसेंग 1.22 प्रतिशत और दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.59 प्रतिशत की बढ़त में रहा जबकि चीन का शंघाई कंपोजिट 0.19 फीसदी और जापान का निक्की 0.06 फीसदी लुढ़क गया। (वार्ता)













संबंधित समाचार