जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में आरएसएस नेता पर आतंकवादी हमला, सुरक्षाकर्मी की मौत

डीएन ब्यूरो

अस्पताल की ओपीडी में आरएसएस नेता अपने सुरक्षाकर्मी के साथ मौजूद थे। इसी दौरान बुर्का पहने हुए एक व्यक्ति ने उनपर फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग में आरएसएस नेता जख्मी हो गए, जबकि सुरक्षाकर्मी की मौके पर ही मौत हो गई।

अस्पताल के बाहर मौजूद भीड़।
अस्पताल के बाहर मौजूद भीड़।

जम्‍मू कश्‍मीर: जम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ में अस्पताल को आतंकी हमले का निशाना बनाया गया है। इस हमले में  राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े एक नेता पर फायरिंग की गई है। हादसे में उनके सुरक्षाकर्मी की घटनास्‍थल पर ही मृत्‍यु हो गई। जबकि वह गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। हमले के बाद इलाके में हालात तनावपूर्ण हो गए हैं। जिसके कारण कर्फ्यू  लगा दिया गया है। बताया जा रहा है हमलावर बुर्का पहने हुए था।

मंगलवार को जम्‍मू कश्‍मीर के एक आरएसएस नेता चंद्रकांत पर अस्पताल के अंदर ओपीडी में आतंकवादियों ने हमला कर दिया। इस दौरान उनके साथ जम्मू-कश्मीर पुलिस की तरफ से दिया गया निजी सुरक्षाकर्मी भी मौजूद था। फायरिंग में निजी सुरक्षाकर्मी की मौके पर ही मृत्यु हो गई जबकि वह गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। अभी चंद्रकांत की हालत गंभीर बनी हुई है। इसके साथ ही हमलावर बॉडीगार्ड का हथियार भी छीनकर फरार हो गया। हमले से अस्‍पताल में अफरातफरी का माहौल मच गई। 

पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया है। हमले के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया है और सुरक्षा बलों ने खोजी अभियान शुरू कर दिया है। इलाके के हालात बहुत अधिक तनावपूर्ण हो गए हैं। प्राप्‍त सूचनाओं के अनुसार इस अस्‍पताल के बाहर पाकिस्‍तान के खिलाफ नारेबाजी की जा रही है।

हमलावर के बारे में प्रत्‍यक्षदर्शियों का कहना है कि वह बुर्का पहने हुए था। हालांकि अभी तक यह स्‍पष्‍ट नहीं हो सका है कि बुर्का पहले हमलावर कोई पुरुष था या महिला। 

चंद्रकांत एक मेडिकल असिस्टेंट के तौर पर कार्यरत थे। प्राप्‍त सूचनाओं के अनुसार 1 नवंबर 2018 को जिन परिहार बंधुओं की हत्या की गई थी, ये मेडिकल अधिकारी उनका बेहद करीबी था। अब एकबार फिर उनके करीबी को फिर आतंकियों ने निशाना बनाने की कोशिश की है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …