गोरखपुर में फंदे पर झूला पुलिस कांस्टेबल, छुट्टी लेकर आया था घर

डीएन ब्यूरो

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले के डुमरियागंज थाने में तैनात पुलिस कांस्टेबल का शव फंदे से लटका मिलने के बाद हड़कंप मच गया है। सिपाही का शव लटकता देख घरवालों में चीख-पुकार मच गई। डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट..

फाइल फोटो
फाइल फोटो

गोरखुपर: पुलिस विभाग में तैनात सिपाही ने गोरखपुर के कैंट इलाके के कूड़ाघाट देवनगर कॉलोनी में अपने आवास पर फंदे से लटककर खुदकुशी कर ली। सिपाही का शव लटकता देख घरवालों में चीखपुकार मच गई। सूचना पर पंहुची पुलिस मामले की जांच कर रही है। खुदकुशी करने की वजह अभी तक स्‍पष्‍ट नहीं हो सकी है। 

मूल रूप से देवरिया सलेमपुर के रहने वाले सिपाही मनीष गौड़ बुधवार की रात को ही घर लौटे थे। वर्तमान में वह उत्‍तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले के डुमरियागंज थाने में तैनात थे। मनीष के पिता भी पुलिस विभाग में ही थे। उनकी ड्यूटी के दौरान बदमाशों की गोली से मौत हो गई थी। जिसके बाद मृतक आश्रित के तौर पर पिता की जगह मनीष को नौकरी मिली थी।

प्राप्‍त जानकारी के अनुसार मृतक सिपाही मनीष की बहन की शादी तय है। पूरा परिवार शादी की तैयारियों में जुटा हुआ है। किसी भी परिजन या रिश्‍तेदारों को इसका जरा भी अंदेशा नहीं था कि वह इस तरह का कदम उठा सकता है। क्‍योंकि बुधवार रात मनीष जब ड्यूटी से घर आया था तो उसने सब से अच्‍छे से बातचीत की थी। मां, भाई, बहन के साथ बैठकर खाना खाया था। इसके बाद वह कमरे में सोने चला गया था।

अगले दिन सुबह जब उसके भाई कि जब नींद खुली तो वह मनीष को जगाने पहुंचा। लेकिन जब उसने दरवाजा खोला तो देखा कि मनीष का शव फंदे से लटकता हुआ मिला। आनन-फानन में उसने घर वालों की इसकी जानकारी दी। जिसके बाद पुलिस को सूचना दे दी गई। फिलहाल, पुलिस मौके पर मौजूद है, जांच की जा रही है। घर के लोग भी खुदकुशी की वजह नहीं बता पा रहे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

#DNPoll क्या आपको लगता है जनता के असली मुद्दों को लेकर मोदी और राहुल के बीच आमने-सामने की डिबेट होनी चाहिये?