मायावती का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा बयान.. गरीबी-बेरोजगारी की चिंता छोड़ शिलान्‍यासों में रहते हैं व्‍यस्‍त

डीएन ब्यूरो

भाजपा के लिये प्रचार का महत्व अधिक है। शिक्षा और जनहित का ख्‍याल रखते तो प्रचार पर खर्च किए गए सरकारी धन से उत्तर प्रदेश जैसे पिछड़े राज्य के हर गांव में शिक्षा और अस्पताल की व्यवस्था हो सकती थी।

मायावती
मायावती

लखनऊ: वैसे तो मायावती कुछ दिन पहले ही ट्वि‍टर पर आई है लेकिन अकाउंट चालू होने के बाद कोई ऐसा दिन नहीं गया होगा जब उन्‍होंने भाजपा पर हमला न बोला हो। 

 

मायावती ने शनिवार को ट्विटर के माध्‍यम से प्रधानमंत्री मोदी पर हमला करते हुए कहा, भाजपा की केंद्र सरकार अपनी नाकामियों और विफलताओं को छुपाने के लिए लोगों का ध्‍यान भटकाना चाहते हैं। चुनाव में गरीबी और बेरोजगारी मुद्दा न बने इसके लिए बहुत सारे गड़ मुर्दे उखाड़ना चाहती है। जनता सावधान रहे।

वहीं बीते दिन भी मायावती ने प्रधानमंत्री पर साधते हुए लिखा था कि प्रधानमंत्री अधिकतर समय शिलान्यास आदि में गुजार देते हैं। साथ ही प्रचार पर 3044 करोड़ खर्च कर डाले। इस सरकारी धन से उत्तर प्रदेश जैसे पिछड़े राज्य के हर गांव में शिक्षा व अस्पताल की व्यवस्था  हो सकती थी। लेकिन भाजपा के लिये प्रचार अधिक महत्त्वपूर्ण है शिक्षा व जनहित नहीं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)