पीएम मोदी ने किया उड़ान का उद्घाटन, कहा- अब हवाई चप्पल वाला भी हवाई यात्रा करेगा

डीएन संवाददाता

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को उड़ान (उड़े देश का आम नागरिक) स्कीम के तहत शिमला से दिल्ली की पहली फ्लाइट का उद्घाटन किया।

पीएम मोदी
पीएम मोदी

शिमला: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उड़े देश का आम नागरिक यानी 'उड़ान' योजना के तहत गुरुवार को शिमला-दिल्ली रूट पर देश की सबसे सस्ती घरेलू हवाई सेवा का शुभारंभ किया। उड़ान की शुरुआत अक्टूबर 2016 में रीजनल कनेक्टिवटी स्कीम (RCS) के तहत की गई थी। इस महत्वाकांक्षी स्कीम का मकसद हवाई उड़ान को छोटे शहरों तक पहुंचाना और इसे किफायती बनाना है। इस दौरान कड़प्पा-हैदराबाद और नांदेड-हैदराबाद मार्गों पर भी हवाई सेवा शुरू की जाएंगी। मोदी ने आम नागरिक के लिए सरकार के 'उड़ान प्लान' के बारे में बताते हुए कहा कि वह चाहते हैं हवाई चप्पल पहने आम आदमी हवाई सफर करे।

इस दौरान पीएम ने कहा कि अगर युवाओं को मौका मिलेगा तो वे देश की तकदीर और तस्वीर बदल देंगे। पूरा देश मानता है कि हवाई यात्रा के लिए सबसे ज्यादा अवसर भारत में हैं। मोदी ने कहा कि पहले धारणा थी कि हवाई यात्रा राजा-महाराजा का ही विषय है। इसीलिए एयर इंडिया का लोगो भी 'महाराज' ही था। पीएम ने कहा कि वे खुश हैं कि देश में पहली बार ऐविएशन पॉलिसी बनाने का सौभाग्य उनकी सरकार को मिला है। आज हवाई चप्पल पहनने वाले भी हवाई यात्रा कर सकते हैं।

 

पीएम ने कहा हम टैक्सी से सफर करें तो 8-10 रुपये प्रति किलोमीटर का खर्च आता है और शिमला आने में समय करीब 10 घंटे लगते हैं। लेकिन इस पॉलिसी से खर्च सिर्फ 6 या 7 रुपये ही होगा। पीएम ने इस दौरान ऐविएशन कंपनियों को सलाह दी कि अगर वे व्यापारिक नजरिए से सोचें कि नांदेड़ साहिब, पटना साहिब और अमृतसर साहिब का रूट बनाएंगे तो उन्हें बहुत फायदा होगा। 30 नए एयरपोर्ट से टीयर-2 और टीयर-1 शहरों को इस योजना से जोड़ा जाएगा।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि नॉर्थ ईस्ट जो जाता है वह बार-बार जाना चाहता है। लेकिन कनेक्टिविटी के अभाव में वह ऐसा नहीं कर पाता। इस योजना से सिर्फ यात्रा की सुविधा ही नहीं बल्कि दो संस्कृतियां भी जुड़ती हैं। देश के एक कोने को दूसरे से जोड़ने का काम इससे हो रहा है। पीएम ने कहा कि वह हिमाचल और देश को यह योजना देकर गर्व का अनुभव कर रहे हैं।
 








संबंधित समाचार