लखनऊ: हताश युवक तालाब में कूदा, तलाश में जुटे गोताखोर

डीएन संवाददाता

थाना गोमतीनगर स्थित खारीका विनायकी वार्ड में एक अवसादग्रस्त युवक ने तालाब में कूद गया। आत्महत्या के इरादे से कूदे इस युवक का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है। गोताखोरों की मदद तालाब से युवक का शव बरामद करने की कोशिश की जा रही है।


लखनऊ: थाना गोमतीनगर स्थित खारीका विनायकी वार्ड में एक अवसादग्रस्त युवक तालाब में कूद गया। आत्महत्या के इरादे से कूदे इस युवक का अभी तक कोई पता नहीं चल पाया है। गोताखोरों की मदद से तालाब से युवक का शव बरामद करने की कोशिश की जा रही है। युवक के परिजनो ने पुलिस पर मामले में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है।

यह भी पढ़ें: लखनऊ में पुलिस ने किया शातिर गैंग का पर्दाफाश, चोरी की 16 बाइकें बरामद

 

धर्मेंद्र (फाइल फोटो)

यह भी पढ़ें: सरकारी नौकरी के नाम पर युवाओं से लाखों की ठगी, 2 शातिर गिरफ्तार

बताया जाता है कि युवक पहले भी आत्महत्या के इरादे से तालाब पर गया था, लेकिन तब उसे रोक दिया गया। लेकिन कुछ देर बाद युवक फिर अपने घर से निकला और तालाब में जाकर छलांग लगा दी।

जानकारी के अनुसार थाना गोमतीनगर के खारीका निवासी धर्मेंद्र प्राइवेट कंपनी का कर्मचारी था। धर्मेंद्र के छोटे भाई प्रिंस ने बताया की बीती रात 11 बजे उसने बड़े भाई को तालाब में कूदते देखा था।

 

 

यह भी पढ़ें: लखनऊ: 100 से भी अधिक लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले गैंग का पर्दाफाश

घटना की जानकारी मिलने पर आधी रात को पहुंची पुलिस ने अंधेरे की बात कहकर तब गोताखोरों को बुलाने से मना कर दिया। सुबह होने पर पुलिस अपने साथ कई गोताखोरों को लेकर मौके पर पहुंची। लेकिन अभी तक युवक का पता नहीं चल पाया है। धर्मेन्द्र के परिजनों ने पुलिस के रवैये पर नाराजगी जताते हुए कहा कि यदि रात को ही पुलिस ने तालाब में सर्च अभियान चलाया होता तो शायद इतनी बड़ी वारदात न होती।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार