कानपुर: सीएम के कार्यक्रम में पार्षदों की 'नो एंट्री'

डीएन संवाददाता

कानपुर में सीएम योगी के कार्यक्रम में एंट्री न मिलने पर पार्षदों ने जमकर हंगामा किया और नारेबाजी की, जिसके बाद प्रशासन के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। पढ़ें आगे क्या हुआ..

पार्षदों के लिए लगाई गई बैरिकेटिंग
पार्षदों के लिए लगाई गई बैरिकेटिंग

कानपुर: यहां सीएम योगी के कार्यक्रम में नगर निगम के पार्षदों की एंट्री को लेकर पार्षदों और पुलिस के बीच काफी तू-तू मै-मै हुई। इस दौरान कार्यक्रम में नगर निगम के पार्षदों ने अपनी एंट्री रोके जाने को लेकर जमकर हंगामा किया और कार्यक्रम का बहिष्कार किया।

कार्यक्रम स्थल के बाहर तैनात पुलिस बल

इन्विटेशन कार्ड होने के बावजूद नही मिली एंट्री

सीएम योगी के कार्यक्रम में नगर निगम के पार्षदों को पुलिस ने रोक लिया, उन्हें एंट्री नही मिली जिसके बाद योगी जी के कार्यक्रम का बहिष्कार करते हुए पार्षदों ने रोड जाम कर दिया। डाइनामाइट न्यूज़ को पार्षदों ने बताया कि पुलिस ने उन्हें कार्यक्रम स्थल तक नहीं जाने दिया। मोतीझील में योगी को स्वामी विवेकानंद की मूर्ति का अनावरण करने के लिए पहुंचना था, जिसको लेकर बीजेपी समेत सभी पार्षदों को इन्विटेशन कार्ड दिए गए थे लेकिन जब वे वहा पहुंचे तो पुलिस ने यह कहकर रोक दिया कि आप सभी अपने आईडी कार्ड लेकर आइये। इस पर सभी पार्षदों ने हंगामा शुरू कर दिया और नारेबाजी शुरू कर दी। इस बीच पार्षदों और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की भी शुरू हो गई। वहीं पार्षदों ने सीएम के कार्यक्रम का बहिष्कार कर दिया जिसके बाद प्रशासन के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए जिसके बाद पार्षदों को अंदर एंट्री करवाई गई।

हंगामा करते पार्षद

डाइनामाइट न्यूज़ को बीजेपी पार्षद चेतना शर्मा ने बताया कि हम लोगों को इनविटेशन कार्ड दिए गए है, फिर भी पुलिस योगी जी को बदनाम करने के लिए ऐसा करके हमको रोक रही है। अगर हमारे साथ ऐसा ही बर्ताव करवाना था तो हम लोगों को इन्विटेशन कार्ड क्यों भेजा गया। 








संबंधित समाचार