Uttarakhand Election: रामनगर से चुनाव लड़ने पर बोले हरीश रावत- रामनगर मेरे लिए गुरु स्थली, यहीं से सीखी राजनीति

डीएन ब्यूरो

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिये कांग्रेस ने अपने पार्टी के वरिष्ठ नेता और उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत को रामनगर से चुनावी मैदान में उतारा है। रामनगर से चुनाव पर हरीश रावत की पहली प्रतिक्रिया सामने आई है। पढ़िये पूरी रिपोर्ट

हरीश रावत, पूर्व सीएम, उत्तराखंड (फाइल फोटो)
हरीश रावत, पूर्व सीएम, उत्तराखंड (फाइल फोटो)


नई दिल्ली: उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिये कांग्रेस ने कल अपने प्रत्याशियों की दूसरी लिस्ट जारी की। इस सूची में पार्टी के वरिष्ठ नेता और उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत को रामनगर से चुनावी मैदान में उतारा गया है। रामनगर से हरीश रावत को चुनावी मैदान में उतारने को लेकर राजनीतिक गलियारों में कई बातें हो रही है। इन सबसे बीच रामनगर से चुनाव लड़ने पर हरीश रावत की पहली प्रतिक्रिया सामने आई है। 

उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत ने मंगलवार को कहा कि “रामनगर मेरे लिए गुरु स्थली है , यही से मैंने राजनीति सीखी। उसके आधार पर मैं चुनाव जीतने पर रामनगर और उसके आसपास के क्षेत्र की जनता के लिये कुछ बेहतर कर सकूंगा।“

इसके साथ ही हरीश रावत ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि हम रोजगार देने वाली और महंगाई पर नियंत्रण करने वाली सरकार बनाएंगे। इस बार उत्तराखंड की जनता ने कांग्रेस को बहुमत देने का मन बनाया है।

बता दें कि कल देर शाम उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिये कांग्रेस ने अपने 11 उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की। वरिष्ठ कांग्रेसी और राज्य के पूर्व सीएम हरीश रावत को विधानसभा सीट नंबर 61 रामनगर से चुनावी टिकट दिया गया है। जबकि हाल ही भाजपा से निष्कासित हरक सिंह रावत की बहू आकृति रावत कांग्रेस ने लैंसडाउन से टिकट दिया है।

कांग्रेस इससे पहले 23 जनवरी को 53 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर चुकी है। 6 सीटों पर उम्मीदवारों का चयन अभी भी बाकी रह गया है।










संबंधित समाचार