Uttar Pradesh: लखनऊ और नोएडा में कमिश्नर प्रणाली को लेकर सरकार का बड़ा फैसला

डीएन ब्यूरो

लखनऊ से आईपीएस कलानिधि नैथानी के ट्रान्सफर के बाद बतौर पुलिस कप्तान अभी तक किसी आईपीएस की नियुक्ति नहीं हो पाई। जबकि नोएडा के पुलिस कप्तान वैभव कृष्ण के संस्पेड होने के बाद वहां भी यहीं स्थिति है। इन सभी खबरों के बीच इन दोनो जिलों मे कमिश्नरी सिस्टम लागू होने की चर्चाएं भी राजनैतिक गलियारों में चल रही थी। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर...


लखनऊः राजधानी लखनऊ और नोएडा में कमिश्नरी प्रणाली को सीएम ने मंजूरी दे दी है। आज लखनऊ में पत्रकारों से बात करते हुए सीएम ने कहा की लखनऊ में 1 एडीजी स्तर का अफसर पुलिस कमिश्नर, 2 आईजी स्तर के अफसर ज्वाइंट कमिश्नर होंगे। एक ज्वाइंट कमिश्नर कानून-व्यवस्था के लिए जबकि दूसरा क्राइम कंट्रोल के लिए होगा।

वहीं 9 के करीब एसपी होगें। जिसमें 1 ट्रैफिक संचालन, दूसरी महिला एसपी महिला अपराधों के लिए तैनात की जायेगी। सीएम ने नोएडा में भी कमिश्नरी सिस्टम पर मुहर लगाते हुए कहा की 1 पुलिस कमिश्नर, 2 डीआईजी स्तर के 2 ज्वाइंट कमिश्नर तैनात होगें। साथ ही ट्रेफिक संचालन और महिला अपराधों पर अंकुश के लिए 1 महिला एसपी तैनात की जायेगी।

सीएम ने कहा की सरकार ने अपने अधिकारों का प्रयोग करते हुए दोनों जिलों में कमिश्नरी सिस्टम को मंजूरी दी है। लखनऊ की आबादी 40 लाख के करीब है। जबकि 25 लाख के करीब आबादी नोएडा में रह रही है।ऐसे में सभी को भयमुक्त माहौल देना सरकार की जिम्मेदारी है।जिसको लेकर सरकार ने पुलिस सुधार की दिशा में ये कदम उठाया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार