आवश्यक वस्तुओं की दुकानों 24 घंटे खुल सकती हैं : केजरीवाल

डीएन ब्यूरो

दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस (कोविड 19) के कारण लॉकडाउन के दौरान किसी भी आवश्यक वस्तु की कमी नहीं होने देने की प्रतिबद्धता दोहराता हुये कहा है कि जरुरत पड़ने पर आवश्यक सेवाओं से जुड़ी दुकानों को 24 घंटे तक खुली रहने की इजाजत दी जा सकती है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

नयी दिल्ली: दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस (कोविड 19) के कारण लॉकडाउन के दौरान किसी भी आवश्यक वस्तु की कमी नहीं होने देने की प्रतिबद्धता दोहराता हुये कहा है कि जरुरत पड़ने पर आवश्यक सेवाओं से जुड़ी दुकानों को 24 घंटे तक खुली रहने की इजाजत दी जा सकती है।

 

उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को वीडियों कांफ्रेस के जरिये जिला अधिकारियों से लॉकडाउन के दौरान स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि राजधानी में आवश्यक वस्तुओं की कमी नहीं होने दी जायेगी और इसके लिये सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। उन्होंने सब्जी और दुध वाले बिना पास के भी अपना काम कर सकेंगे। केजरीवाल ने कहा कि मोहल्ला क्लीनिक चालू रहेंगे। किन्तु पूरी एहतियात बरती जायेगी।
 
गौरतलब है कि उत्तर पूर्वी दिल्ली के मौजपुर इलाके मे मोहल्ला क्लीनिक के एक डॉक्टर और उनसे इलाज कराने वाले करीब 900 लोगों को क्वारेंटीन किया जायेगा। सऊदी अरब से आईं एक महिला का इस मोहल्ला क्लिनिक के डाक्टर ने उपचार किया था।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन काफी हद तक सफल रहा है किन्तु अभी भी कुछ लोग बेवजह सड़कों पर निकल रहे हैं। कुछ लोगों की गलती से परेशानी बढ़ सकती है। उन्होंने से लोगों से अपील की थी कि आने वाले समय में और सर्तकता बरतने की जरुरत है। लोगों से अपील है कि वह लॉकडाउन के दौरान सहयोग करे और घर में ही बने रहे।
 
केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में कोराेना के अबतक 36 मामले सामने आये है और जिसमें से 26 विदेश यात्रा से जुड़े हुये है। जो 10 अन्य मामले है वो विदेशों से आये लोगों के संपर्क में आने से जुड़े हुये है।

 

केजरीवाल ने कहा दिल्ली में हालात नियंत्रण में है और मेरी लोगों से पुरजोर अपील है कि वह लॉकडाउन के दौरान घर में बने रहे। तथा जरुरत पड़ने पर ही घर से बाहर निकले नहीं तो कुछ लोगों की लापरवाही का खामियाजा सभी को भुगतना पड़ सकता है। उन्होंने कहा कि घरों पर खाद्य पदार्थो की डिलीवरी करने वालों भी अनुमति दी जा रही है। आवश्यक वस्तुओं की आवाजाही प्रभावित न हो इसके लिये ई- पास जारी किये जा रहे है। और 1031 नवम्बर पर व्हाट्सएप करने के बाद ई-पास जारी कर दिया जायेगा।
 
उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवा से जुड़े कर्मचारियों की लगातार स्वास्थ्य जांच की जा रही है। उन्होंनेमुख्यमंत्री ने एसडीएम और एसीपी से कहा कि वह सुनिश्चित करे कि आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुले और ये भी सुनिश्चित करे की दुकानों में जरुरत का सामान भी उपलब्ध हो सके। (वार्ता)
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार