न्यूजीलैंड ने बंगलादेश के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में बनाया अपना सर्वाधिक स्कोर..

डीएन ब्यूरो

कप्तान केन विलियमसन (नाबाद 200) के शानदार दोहरे शतक और मध्यक्रम के बल्लेबाजों की साहस भरी पारियों की बदौलत न्यूजीलैंड ने बंगलादेश के खिलाफ सीरीज के पहले टेस्ट के तीसरे दिन शनिवार को छह विकेट पर विशालकाय स्कोर बनाने के साथ ही अपनी पहली पारी घोषित कर दी।

न्यूजीलैंड  टेस्ट क्रिकेट
न्यूजीलैंड टेस्ट क्रिकेट

हेमिल्टन: कप्तान केन विलियमसन (नाबाद 200) के शानदार दोहरे शतक और मध्यक्रम के बल्लेबाजों की साहस भरी पारियों की बदौलत न्यूजीलैंड ने बंगलादेश के खिलाफ सीरीज के पहले टेस्ट के तीसरे दिन शनिवार को छह विकेट पर 715 रन का विशालकाय स्कोर बनाने के साथ ही अपनी पहली पारी घोषित कर दी। 

टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में न्यूजीलैंड का यह सर्वोच्च स्कोर है। इससे पहले कीवी टीम ने वर्ष 2014 में पाकिस्तान के खिलाफ 690 रन बनाए थे। 

ऑस्ट्रेलिया को मात देने के हौसले से कल मैच में उतरेगी टीम इंडिया

इससे पहले न्यूजीलैंड ने आज तीसरे दिन पहली पारी के 451 रन पर चार विकेट के स्कोर से आगे खेलना शुरू किया। सभी कीवी बल्लेबाजों ने मेहमान टीम के गेंदबाजों को खूब छकाया। तीसरे दिन का खेल शुरू होने पर विलियमसन और नील वैगनर (47) ने शानदार बल्लेबाजी की और टीम के स्कोर को 500 के पार पहुंचाया। दोनों के बीच पांचवें विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी हुई। इसी दौरान विलियमसन ने अपना शतक भी पूरा किया। इबादत हुसैन ने वैगनर को लिटन दास के हाथों कैच करा उन्हें पवेलियन की राह दिखाई। वैगनर ने 35 गेंदों पर 47 रन की अपनी तूफानी पारी में छह चौके और तीन छक्के लगाए। 

इसके बाद अपने कप्तान का साथ देने आए विकेटकीपर बी जे वॉटलिंग ने भी सधी हुई बल्लेबाजी की और 67 गेंदों का सामना करते हुए 31 रन बनाए। वाॅटलिंग को मेहदी हसन ने लिटन दास के हाथों कैच करा कीवी टीम को छठा झटका दिया। इसके बाद आठवें नंबर पर बल्लेबाजी करने आए कॉलिन डि ग्रैंडहोम (नाबाद 76) ने कप्तान विलियमसन के साथ मिलकर बहुत तेजी से रन बटोरे। ग्रैंडहोम ने 53 गेंदों पर 76 रन की अपनी तूफानी पारी में चार चौके और पांच छक्के लगाए और वह अंत तक नाबाद रहे। कीवी कप्तान ने अपना दोहरा शतक पूरा करने के साथ ही 715 रन पर छह विकेट के स्कोर पर पारी घोषित कर दी। विलियमसन ने 257 गेंदों का सामना करते हुए अपना दोहरा शतक पूरा किया। विलियमसन ने अपनी पारी में 19 बेहतरीन चौके भी लगाए।

झूलन और शिखा की शानदारी गेंदबाजी ने दिलायी भारत को सीरीज

इसके अलावा कीवी टीम के सलामी बल्लेबाज टाॅम लाथम (161) और जीत रावल (132) की शानदार शतकीय पारियों ने भी इस विशाल स्कोर में अहम योगदान दिया। इसके साथ ही न्यूजीलैंड ने अपनी पहली पारी के आधार पर बंगलादेश के खिलाफ 481 रन की विशाल बढ़त हासिल भी हासिल कर ली। मेहदी हसन खासे महंगे साबित हुए और उन्होंने पांच की औसत से 49 ओवर में 246 रन दिए। 

बंगलादेश की ओर से सौम्य सरकार और हसन ने दो-दो, महमुदुल्लाह और इबादत ने एक-एक विकेट लिया। 

इसके जवाब में बंगलादेश ने अपनी दूसरी पारी में तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक चार विकेट खोकर 174 रन बना लिए हैं और वह अभी भी मेजबान टीम से 307 रन पीछे है। बंगलादेश के सौम्य सरकार 39 रन और महमुदुल्लाह 15 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं।  (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

#DNPoll क्या लगता है इस बार के लोकसभा चुनाव में बेरोज़गारी व महँगाई जैसी असली समस्या मुद्दे बन पायेंगे?