यूपी पुलिस का ट्विटर हैंडल बना अचूक हथियार

डीएन ब्यूरो

यूपी पुलिस की ट्विटर सेवा से अब तक सैकड़ों लोगों की मदद की जा चुकी है। यह सेवा राज्य की पुलिस को अलग पहचान और प्रतिष्ठा दिला रही है।

श्रोत: इंटरनेट
श्रोत: इंटरनेट

लखनऊ: भारत में ही नहीं बल्कि दुनियां भर में यूपी पुलिस की ट्विटर सेवा की तारीफें हो रही। यूपी पुलिस के ट्विटर हैंडल से काफी मसले हल हुए हैं। यूपी पुलिस की यह एक ऐसी सेवा है जो सिर्फ देश में ही नहीं बल्कि देश के बाहर बैठे लोगों को भी सहायता कर रहे हैं।

यूपी पुलिस का ट्विटर अकाउंट

सीधे तौर पर जनता से जुडी यह पुलिस प्रशासन की यह पहली सेवा है जिसका रिस्पॉन्स बहुत बेहतर है। यूपी पुलिस का ट्विटर हैंडल न सिर्फ यूपी के लोगों को बल्कि अपने परिजनों से दूर रह रहे लोगों के लिए भी मददगार साबित हो रहा है।

यह भी पढ़ें: हफ्ते में एक दिन खाकी पहनेगी खादी!

ट्विटर के लिए स्पेशल सेल

यूपी पुलिस की यह सेवा साल भर पहले तत्कालीन डीजीपी जावीद अहमद ने शुरू की थी। इसके लिए डीजीपी कार्यालय में खास सोशल मीडिया सेल भी बनाई गई है। इस सेल में सिर्फ ट्विटर हैंडल ही नहीं होता बल्कि सभी शिकायतों पर एक्शन लेने के निर्देश भी दिए जाते हैं। वर्तमान में इस सेवा को डीजीपी कार्यालय में अपर पुलिस अधीक्षक राहुल श्रीवास्तव संभाल रहे हैं. राहुल को इस ट्विटर सेवा के लिए कई पुरस्कार भी मिल चुके हैं.

अपर पुलिस अधीक्षक राहुल बताते हैं कि ऐसे सैकड़ों लोगों की मदद ट्विटर सेवा से की जा चुकी है जिनका कोई परिजन उत्तर प्रदेश के किसी भी जिले में फंसा हो। उन्होंने बताया कि उनकी यह कोशिश रहती है कि जल्द से जल्द लोगों को मदद पहुंचाई जा सके।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: सीओ से अभद्रता करने वाले तीन सिपाहियों को एसपी ने किया निलंबित

पेपर लीक की शिकायत ट्विटर से ही मिली
पुलिस भर्ती बोर्ड की परीक्षा का ऑनलाइन पेपर लीक होने की जानकारी पुलिस को ट्विटर से ही मिली थी। पेपर लीक होने के बाद अभ्यर्थियों ने प्रदेश पुलिस और डीजीपी के ट्विटर हैंडल पर शिकायत की। इसकी जांच की गई तो यह शिकायत सही पायी गयी और परीक्षा निरस्त कर दी गयी।

ट्वीट के बाद बची महिला की इज्जत

नोएडा में एक महिला ने रात में 2 बजे यूपी पुलिस के ट्विटर हैंडल पर शिकायत की कि घर के बाहर कुछ बदमाश दरवाजा पीट रहे हैं। मैं घर में अकेली हूं, मेरी मदद कीजिये। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने डीजीपी मुख्यालय से नोएडा पुलिस को संपर्क कर महिला की इज्जत बचाई।

यह भी पढ़ें: देवरिया अपर पुलिस अधीक्षक की प्रेरक पहल

हर जिले की पुलिस के ट्विटर हैंडल

यूपी पुलिस ने ट्विटर से समझौता किया हुआ है। इसके तहत पुलिस विभाग से जुड़े अधिकारियों के पद के नाम से ट्विटर हैंडल बनाये गये है। जैसे @uppolice @dgpup @adgzonelucknow @igrangelucknow @ssplucknow। इसी तरह सभी जिले की पुलिस जोन और रेंज के नाम से ट्विटर हैंडल बने हुए हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …