लखनऊ: गैंगरेप और एसिड अटैक से ज़िंदा बची महिला पर फिर एसिड अटैक

डीएन संवाददाता

एसिड अटैक की शिकार हो चुकी युवती पर एक बार फिर एसिड फेंकने की घटना सामने आई है। पीड़िता के लखनऊ स्थित हॉस्टल में घुसकर किसी अनजान शख्स ने वारदात को अंजाम दिया।

एसिड पीड़िता से मिलने अस्पताल पहुंचे थे सीएम योगी (फाइल फोटो)
एसिड पीड़िता से मिलने अस्पताल पहुंचे थे सीएम योगी (फाइल फोटो)

लखनऊ: करीब तीन महीने पहले रायबरेली से लखनऊ आ रही गैंगरेप पीड़ित महिला पर ट्रेन में एसिड अटैक हुआ था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गंभीर प्रयास के बाद उसको मौत के मुंह से निकाला गया लेकिन शनिवार को लखनऊ में हॉस्टल में रह रही महिला पर एक बार फिर तेजाब फेंका गया। फिलहाल महिला को ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया है लेकिन तेजाब फेंकने वालों का कुछ भी पता नहीं चला है।

यह भी पढ़ें: शर्मनाकः तमंचे की नोक पर दो बहनों के साथ पूरी रात होता रहा गैंगरेप

पानी भरने गई थी और कर दिया एसिड अटैक

महिला को एक गनर भी मिला है जो हास्टल के गेट पर था। बताया जा रहा है कि महिला पर उस समय हमला हुआ जब वह हॉस्टल के कमरे से बाहर आकर पानी भर रही थी। वह लखनऊ में एसिड अटैक पीड़ितों द्वारा संचालित एक कैफे में काम करती है। पुलिस का कहना है कि महिला को चेहरे के दाहिनी तरफ नुकसान पहुचा है। महिला अभी बयान देने की हालत में नहीं है। मौके पर पहुंचे पुलिस अधिकारी ने कहा महिला हॉस्टल के बाहर फोन पर बात कर रही थी तभी अंधेरे में कोई शख्स उसके पास आया और एसिड से हमला कर भाग गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इस मामले में रायबरेली पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया है। वहीं महिला अभी बयान देने की स्थिति में नहीं है।

ट्रामा सेंटर में भर्ती पीड़िता

यह भी पढ़ें: शर्मनाक: काशी में बिल्डिंग के चौकीदार ने फ्रांस की महिला के साथ किया रेप

9 साल में पांचवा हमला

45 साल की इस पीड़िता पर 9 साल में यह पांचवा हमला था। उसके साथ 2008 में जायदाद विवाद की वजह से गैंगरेप किया गया था। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था। केस अब भी चल रहा है। 2011 व 2013 में भी महिला पर एसिड हमला हो चुका है।

सीएम ने की थी मुलाकात

लखनऊ में ट्रेन में जब महिला पर एसिड अटैक हुआ था। उस समय सीएम बनने के बाद खुद योगी आदित्यनाथ 24 मार्च को इस महिला से मिलने पहुंचे थे। उस वक्त उन्होंने पीड़िता के परिजनों को सुरक्षा देने का भरोसा दिलाया था लेकिन अपराधी यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को खुली चुनौती दे रहे हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …