लोकसभा ने रचा इतिहास, प्रश्नकाल में पूछे गए 20 प्रश्न, ओम बिरला ने सदस्यों से कही ये बात

डीएन ब्यूरो

लोकसभा में बुधवार को प्रश्नकाल के दौरान पिछले कुछ सालों में सबसे ज्यादा 20 सवाल पूछे गए हैं और मंत्रियों ने उनके जवाब भी दिए हैं। इस पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने सभी सदस्यों को बधाई दी है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर...

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: लोकसभा ने बुधवार को प्रश्नकाल में सभी 20 तारांकित प्रश्नों का पूरक प्रश्न सहित मौखिक उत्तर दिया गया।

 

प्रश्नकाल पूरा होने पर अध्यक्ष ओम बिरला और संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने सदन को बधाई दी। बिरला ने कहा कि वह सभी सदस्यों और सभी मंत्रीगणों को उनके सहयोग के लिए बधाई। सदन में सभी 20 प्रश्नों के मौखिक जवाब उनके सहयोग के बिना संभव नहीं हो सकते थे। उन्होंने कहा, “मैं कोशिश करुंगा कि सदस्य पूरा पूरा प्रश्न पूछें और मंत्री संक्षिप्त एवं सही जवाब दें।” उन्होंने कहा कि प्रश्नकाल में सभी 20 प्रश्न पूरे होने के लिए सभी बधाई के पात्र हैं। सदन शांतिपूर्वक चला इसके लिए वह सभी का आभार व्यक्त करते हैं।

 

संसदीय कार्य मंत्री श्री जोशी ने कहा कि वह सदन की ओर से सभी 20 प्रश्न पूछने एवं उत्तर प्राप्त करने का मौका दिये जाने एवं सदन के कुशलता पूर्वक संचालन के लिए अध्यक्ष श्री बिरला को भी धन्यवाद एवं बधाई देते हैं।

प्रश्न संख्या 121 से प्रश्न संख्या 140 तक प्रधानमंत्री कार्यालय, कोयला, वाणिज्य एवं उद्योग, संचार, रक्षा, इलैक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रोद्यौगिकी, विदेश, विधि एवं न्याय, खान, कार्मिक, लोकशिकायत एवं पेंशन, रेलवे, अंतरिक्ष तथा सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन से संबंधित थे। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी, विदेश मंत्री एस. जयशंकर, रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद यशोनाईक, सांख्यिकी एवं कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्री राव इंद्रजीत सिंह, विधि एवं न्याय और संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री संजय धोत्रे, प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह, रेल राज्य मंत्री सुरेश सी अंगड़ी और वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने प्रश्नों के जवाब दिये। (वार्ता)

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार