कानपुर: चार दिन से युवती लापता, पुलिस ने नहीं सुनी परिजनों की फरियाद

डीएन संवाददाता

कानपुर में पिछले चार दिनों से युवती लापता है लेकिन पुलिस ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। पुलिस के न सुनने पर युवती के परिजन एसएसपी कार्यालय पहुंचे।

एसएसपी कार्यालय पहुंचा पीड़ित परिवार
एसएसपी कार्यालय पहुंचा पीड़ित परिवार

कानपुर: शहर में अपराध के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। ऐसे में पुलिस मामलों पर कार्यवाही करने की बजाय आपराधिक मामलों को नजरअंदाज कर रही है। पुलिस की लापरवाही का एक और मामला सामने आया है। कल्याणपुर का रहने वाला एक परिवार पुलिस की लापरवाही से तंग आकर बुधवार को एसएसपी कार्यालय पहुंचा।

लापता युवती के परिजन

कल्याणपुर थाने के अंतर्गत रावतपुर गांव निवासी जगदीश निषाद की 20 साल की बेटी कंचन 27 मई की दोपहर से लापता है। कंचन इंटर की छात्रा है। काफी तलाश करने के बाद भी जब बेटी न मिली तब पीड़ित परिजन कल्याणपुर थाने पहुंचकर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराकर अपनी बात बताई। इस मामले में पुलिस ने अब तक कोई कार्यवाही नहीं की। पुलिस की तरफ से कोई कार्यवाही न होने पर और बेटी के बारे में अब तक जानकारी न मिलने पर युवती के परिजन एसएसपी कार्यालय पहुंचे। एसएसपी ने परिजनों को हरसंभव मदद और सख्त कार्यवाही करने का आश्वाशन दिया है।

यह भी पढ़ें: यूपी में हैवानियत की हदें पार, युवती को पहले जमकर पीटा फिर प्राइवेट पार्ट में डाल दिया डंडा

परिजनों का क्या कहना है

परिजनों का मानना है कि पीड़ित के ही रिश्तेदार राज किशोर निषाद और उसके लड़के विजय ने ही उसे गायब किया है। वह घर मे घुसकर मारपीट व छेड़खानी करते हैं। एक बार पुलिस से शिकायत करने के बाद इन्हें पकड़ा भी गया था। छूटने के बाद ये लोग जान से मारने की धमकी देते हैं। जिसके बाद दोबारा शिकायत थाने में की लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। पीड़ित मां पार्वती निषाद ने कंचन की दोस्त शिवांगी पर भी शक जाहिर किया है कि वो उसे भड़काया करती थी।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार