किडनी बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश, 4 सदस्य गिरफ्तार

डीएन संवाददाता

दिल्ली पुलिस ने किडनी की खरीद फरोख्त में शामिल एक गैंग का पर्दाफाश किया है जिसमें एक महिला सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

श्रोत: इंटरनेट
श्रोत: इंटरनेट

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने किडनी की खरीद फरोख्त में कथित तौर पर शामिल एक महिला सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनकी गिरफ्तारी में राजस्थान के एक बाशिंदे ने मदद की। जो अपने लापता दोस्त की तलाश कर रहा था। पुलिस ने दावा किया कि गिरफ्तार किए गए लोग दिल्ली सहित विभिन्न राज्यों के कई अस्पतालों में काम करने वाले गिरोह का हिस्सा थे।

यह भी पढ़ें: कानपुर: लग्जरी कारों के शौकीन चोरों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
दिल्ली के एक प्रमुख निजी अस्पताल में इस गिरोह के संचालित होने का खुलासा होने के बाद आप सरकार ने अस्पताल से एक रिपोर्ट मांगी है। हालांकि अस्पताल ने एक बयान में कहा कि उसके यहां सभी किडनी प्रतिरोपण सही तरीके से किये जाते हैं और कुछ गड़बड़ी नहीं हुई है। अस्पताल के अधिकारियों ने कहा कि वे जांच में पुलिस को पूरा सहयोग देंगे।

संयुक्त पुलिस आयुक्त अपराध प्रवीर रंजन ने बताया कि राजस्थान निवासी के जरिए बिछाए गए एक जाल के बाद यह गिरफ्तारी की गई। उन्होंने बताया कि राजस्थान के सीकर निवासी 23 वर्षीय जयदीप शर्मा के सामने जब उनके दोस्त राजेश ने किडनी बेचकर पैसा कमाने का जिक्र किया था तो जयदीप ने इस बारे में छानबीन की।

यह भी पढ़ें: पेट्रोल पम्प पर चिप लगाकर घटतौली करने वाला गैंग पुलिस की गिरफ्त में

बत्रा अस्पताल ने एक बयान में कहा कि वे सभी किडनी प्रतिरोपण उचित तरीके से और कड़ी निगरानी में करते हैं। बयान के मुताबिक सभी मामलों में दिशानिर्देशों का पालन किया जाता है। समिति की कार्यवाही की रिकार्डिंग की जाती है। इसमें कहा गया, ‘‘अस्पताल किसी गड़बड़ी में शामिल नहीं है। अस्पताल ने पुलिस को पूरा सहयोग दिया है और देंगे।’’ राजेश का अभी तक पता नहीं चला है। उसे खोजा जा रहा है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …