महराजगंज: सिपाही कृष्णानन्द हत्याकांड में मुख्य आरोपी शैलेन्द्र मद्देशिया समेत सभी बरी

डीएन संवाददाता

लगभग 12 साल पहले 7 जून 2008 को कोतवाली में सरेआम सिपाही कृष्णानन्द राय हत्याकांड में अदालत ने फैसला सुनाते हुए सभी आरोपियों को बाइज्जत बरी कर दिया है। पूरी खबर..

सभी आरोपी दोषमुक्त
सभी आरोपी दोषमुक्त

महराजगंज: सदर कोतवाली  के अंतर्गत जिला मुख्यालय में 12 साल पहले हुए चर्चित गोलीकांड पर फैसला सुनाते हुए अदालत ने मुख्य आरोपी शैलेन्द्र मद्देशिया समेत सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। पुलिस इस मामले में आरोपियों के खिलाफ कोई ठोस साक्ष्य उपलब्ध नहीं करा सकी। इस गोलीकांड में सिपाही कृष्णानन्द राय की गोली मार कर हत्या कर दी गयी थी।

 

 

एडीजे फस्ट की अदालत ने यह फैसला सुनाते हुए सभी 14 में से 11 आरोपियों का गुरूवार को बाइज्जत बरी कर दिया। इस मामले के अन्य आरोपियों में शामिल तत्कालीन मंत्री जमुना निषाद समेत तीन लोगों की मौत हो चुकी है।

 

7 जून 2008 को सदर कोतवाली में यह गोलीकांड तत्कालीन मंत्री जमुना निषाद की मौजूदगी में हुआ था। अज्ञात लोगों ने सरेआम सिपाही की गोली मारकर हत्या कर दी थी। तत्कालीन मंत्री जमुना निषाद भी इस मामले में एक अहम आरोपी थे। 

डाइनामाइट न्यूज़ से फैसले पर बात करते शैलेन्द्र मद्देशिया के वकील हमीदुल्लाह

अदालत का फैसला आते ही मुख्य आरोपी शैलेन्द्र मद्देशिया समेत सभी लोग अदालत द्वारा उन्हें दोषमुक्त करार देने पर खुशी से उछल पड़े। बाइज्जत बरी होने पर उन्होंने कहा कि यह सत्य की जीत हुई है, अदालत ने उनको न्याय दिया है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …