फैजाबाद में अनुसूचित जाति के व्यक्ति पर दबंगों का कहर

जय प्रकाश पाठक

फैजाबाद में कुछ दबंगों द्वारा एक अनुसूचित जाति के व्यक्ति पर इस कदर कहर ढ़ाया गया कि पीड़ित आज अस्पताल में जीवन और मौत के संकट से जूझ रहा है। पूरी खबर..


फैजाबाद: पूराकलंदर थाना क्षेत्र के सरियावां खैपुर गांव में कुछ दबंगों के कहर से अनुसूचित जाति का एक व्यक्ति आज अस्पताल में जीवन और मौत से जूझ रहा है। दबंगों ने क्रूरता की सारी हदें पार करते हुए अनुसूचित जाति के व्यक्ति शत्रुघ्न पासी पर धारदार रॉड से हमला कर बुरी तरह जख्मी किया और उसके हाथ-पैर तक तोड़ डाले। दबंगों के हमले से पीड़ित के हाथ की तीन हड्डियां और पांव भी टूट गया। पीड़ित 12/13 अप्रैल से मेडिकल कॉलेज के ट्रामा सेंटर में इलाज के लिये भर्ती है।

अस्पताल में भर्ती शत्रुघ्न

 

जानकारी के मुताबिक 31 मार्च को पीड़ित शत्रुघ्न के पिता रामदुलारे पासी का निधन हो गया था। रामदुलारे ने इच्छा जतायी थी कि मृत्यु के बाद उसे उसके नजदीकी खेत में दफनाया जाये। मौत के बाद शत्रुहन और उसके परिजन रामदुलारे के शव को लेकर उस खेत में ले गये, जहां मृतक को दफनाया जाना था। इसी बीच गांव के कुछ दबंगों ने इसका विरोध किया और शव दफनाने को लेकर शत्रुघ्न को डराया-धमकाया और गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी। विरोध के चलते सुबह 10 से शाम 5 बजे तक शव को नहीं दफनाया जा सका। 

शव दफनाने को लेकर दोनों पक्षों में हो रहे विवाद की जानकारी के बाद एसडीएम मौके पर पहुंचे। उन्होंने उस खेत की जानकारी ली, जिसमें शव दफनाया जाना था। ग्रामीणों समेत साक्ष्यों से मालूम हुआ कि वह खेत मृतक रामदुलारे का ही है। इसके बाद एसडीएम और पुलिस के हस्तक्षेप से रामदुलारे का शव दफनाया गया। बताया जाता है कि दबंगों ने एसडीएम के सामने ही शत्रुघ्न को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी।

 

अस्पताल में शत्रुघ्न की हालत की जानकारी लेते सपा सरकार में पूर्व मंत्री अवधेश प्रसाद

खेत में रामदुलारे का शव दफनाये जाने से खुद को अपमानित समझने पर दबंग उग्र हो गये। खुद को प्रधान बताने वाले नाराज 5-6 दबंगों ने 12 अप्रैल को शत्रुघ्न  पर उस समय धारदार रॉड से जानलेवा हमला किया, जब हव अपनी बेटी को स्कूल छोड़ने जा रा था। उसके हाथ-पैर को तोड़ा गया। लहू-लुहान शत्रुघ्न को गंभीर स्थिति में बाद में लखनऊ ट्रामा सेंटर में भर्ती किया गया, जहां वह न केवल जीवन से जूझ रहा है बल्कि इंसाफ की भी इंतजार कर रहा है।

यूपी की पूर्ववर्ती सपा सरकार में मंत्री रहे अवधेश प्रसाद ने इस घटना की कड़ी निंदा की है और दबंगों की करतूत को पाश्विक बताते हुए उन्होंने उनके खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग की है। सपा नेता का कहना है कि दबंगों ने शत्रुघ्न को जिस क्रूरता के साथ पीटा था, उसकी कल्पना कंपा देना वाली है और उसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि लहू-लुहान शत्रुघ्न को जब पहले फैजैबैद अस्पताल ले जाया गया तो वहां के डॉक्टरों ने बिना एक मिनट बर्बाद किये ही पीड़ित को सीधे लखनऊ ट्रामा सेंटर रैफर कर दिया। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार