मोदी सरकार तीर्थयात्रियों को सुरक्षा देने में असफल: कांग्रेस

डीएन संवाददाता

कांग्रेस ने मंगलवार को अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकवादी हमले को अमानवीय और बर्बर करार देते हुए मोदी सरकार से आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई की मांग की है।

रणदीप सिंह सुरजेवाला, कांग्रेस प्रवक्ता
रणदीप सिंह सुरजेवाला, कांग्रेस प्रवक्ता

नई दिल्ली: कांग्रेस ने मंगलवार को अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकवादी हमले को अमानवीय और बर्बर करार देते हुए कहा कि मोदी सरकार तीर्थयात्रियों को सुरक्षा प्रदान करने में असफल रही है। कांग्रेस ने इस घटना में शामिल लोगों के खिलाफ ‘निर्णायक कार्रवाई’ की मांग की है।

यह भी पढ़े: DN Exclusive: भारत-नेपाल सीमा पर हाई अलर्ट

जम्मू एवं कश्मीर के अनंतनाग जिले में सोमवार देर शाम खानाबल में 60 यात्रियों से भरी बस पर आतंकवादियों की गोलीबारी में सात श्रद्धालुओं की मौत हो गई, जबकि 19 अन्य घायल हो गए।

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, “यह समय है कि सरकार जागे, और शब्दों व बैठकों को छोड़कर काम करे और आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई करे।”

सुरजेवाला ने कहा कि आतंकवादियों ने कश्मीर की मिली-जुली संस्कृति पर हमला किया है।

उन्होंने कहा, “अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर आतंकवादी हमले से राष्ट्र चकित और अत्यधिक दुखी है। मौजूदा सरकार क्या कर रही है, यह एक मूक सवाल है?”

यह भी पढ़े: DN Exclusive: आतंकी हमले के बाद भी श्रद्धालुओं की आस्था अडिग

सुरजेवाला ने कहा, “कांग्रेस पवित्र यात्रा के लिए सभी तीर्थयात्रियों की सुरक्षा की मांग करती है। इस संबंध (आतंकवादी हमला) में सरकार क्या कदम उठा रही है, इस बारे में उन्हें बताना चाहिए।”

सुरजेवाला ने सवाल करते हुए कहा, “क्या प्रधानमंत्री बयान देंगे और देश को आश्वासन देंगे कि सरकार राष्ट्रीय सुरक्षा को सुनिश्चित करने के क्या निर्णायक कदम उठाएगी और यह हर कीमत पर सुरक्षित होगी।”

उन्होंने कहा, “अगर 25 जून को ही खुफिया जानकारी मिल गई थी कि अमरनाथ यात्रा पर हमला किया जाएगा, तो इसे रोकने के उपाय क्यों नहीं अपनाए गए? इसे असफल करने के लिए क्या उपाय किए गए थे? क्या हम एक बार फिर बैठकों और पूछताछ में ही इस तरह के एक महत्वपूर्ण मुद्दे को गवां देंगे या फिर निर्णायक कार्रवाई करते हुए दोषियों को सजा दिलाएंगे जिन्होंने देश की सबसे पवित्र धार्मिक यात्रा पर आतंकवादी हमला करने की हिम्मत की है।”

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार