UP DGP: कई सीनियर को पीछे छोड़ डीएस चौहान बने यूपी के कार्यवाहक डीजीपी, स्थायी डीजीपी के लिए लाबिंग हुई और तेज

डीएन ब्यूरो

उत्तर प्रदेश की अफसरशाही से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। कई सीनियर को पीछे छोड़ते हुए 1988 बैच के IPS डीएस चौहान को यूपी का कार्यवाहक डीजीपी बनाया गया है। पढ़िये डाइनामाइट न्यूज़ की पूरी रिपोर्ट

डीएस चौहान, यूपी के कार्यवाहक डीजीपी
डीएस चौहान, यूपी के कार्यवाहक डीजीपी


लखनऊ: उत्तर प्रदेश की अफसरशाही से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। मुकुल गोयल को डीजीपी पद से हटाए जाने के बाद डीएस चौहान को यूपी का कार्यवाहक डीजीपी बनाया गया है। इस रेस में कई नाम शामिल थे, लेकिन डीएस चौहान कई सीनियर अफसरों को पीछे छोड़ते हुए अहम पद पर काबिज होने में सफल रहे। 

सरकार द्वारा यूपी के पुलिस महानिदेश के पद पर स्थाई नियुक्ति नहीं होने तक डीएस चौहान कार्यवाहक डीजीपी का चार्ज संभालेंगे।

डीएस चौहान 1988 बैच के IPS अफसर है। डीएस चौहान 15 फरवरी 2020 से डीजी इंटेलीजेंस के पद पर कार्यरत हैं। इसके अलावा चौहान के पास यूपी सतर्कता अधिष्ठान (विजिलेंस) के निदेशक का भी कार्यभार है। वह वरिष्ठता में चार आईपीएस अफसरों के बाद आते हैं।