रायबरेली में पूरे तेवर में दिखीं प्रियंका गांधी, कहा- यूपी को बाहरी की जरुरत नही

डीएन संवाददाता

यूपी विधानसभा चुनाव में पहली बार बड़े भाई राहुल गांधी के साथ रायबरेली पहुंची प्रियंका अपने चिर-परिचित अंदाज में धुर विरोधी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर बेहद आक्रामक दिखीं।

प्रियंका और राहुल का माला पहनाकर स्वागत करते कांग्रेस कार्यकर्ता
प्रियंका और राहुल का माला पहनाकर स्वागत करते कांग्रेस कार्यकर्ता

रायबरेली: यूपी विधानसभा चुनाव में इस बार भी पहले की तरह प्रियंका गांधी सिर्फ अमेठी और रायबरेली में ही चुनाव प्रचार करेंगी। इसी कड़ी में शुक्रवार को वे बड़े भाई राहुल गांधी के साथ रायबरेली पहुंची और चौथे और पांचवें चरण के मद्देनजर पहली चुनावी रैली को संबोधित किया।

रायबरेली की जनसभा में प्रियंका-राहुल को सुनने उमड़ी भीड़

यहां प्रियंका के निशाने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रहे। पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी के भाषण के बाद प्रियंका गांधी ने माइक संभाला और मोदी को बाहरी नेता ठहराते हुए कहा.. यूपी को किसी को गोद लेने की जरूरत नहीं है, यहां का एक-एक नौजवान नेता बन सकता है। प्रियंका को सुनने भारी संख्या में भीड़ जुटी।

कल ही हरदोई की चुनावी रैली में पीएम मोदी ने कहा था, 'मैं गुजरात में पैदा हुआ और यूपी ने मुझे गोद ले लिया। मैं ऐसा बेटा नहीं हूं कि माई-बाप की चिंता नहीं करेगा। गोद लिया हुआ बेटा UP की चिंता करेगा।'

मंच पर प्रियंका और रैली को संबोधित करते कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी

प्रियंका ने नोटबंदी को लेकर भी मोदी को आड़े हाथों लिया। कहा, 'वह कहते हैं कि यूपी में महिलाओं पर अत्याचार हो रहा है। वह खुद किसी की बेटी, पत्नी, मां का जिक्र करते हैं और सबसे रिश्ता जोड़ लेते हैं। मैं देश की करोड़ों महिलाओं की तरफ से कहना चाहती हूं कि हमेशा किसी से रिश्ता जोड़ने की जरूरत नहीं होती। उन्होंने नोटबंदी के नाम पर आपकी बचत को कागज के टुकड़ों की तरह फिंकवा दिया था। आपको बैंकों की लाइन में खड़ा होने पर मजबूर किया था। क्या वह महिलाओं पर अत्याचार नहीं था?'

रायबरेली में चौथे चरण में 23 फरवरी को मतदान होना है और इसके बाद पांचवें चरण में 27 फरवरी को अमेठी में वोट डाले जाएंगे।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार